आज होगी GST काउंसिल की पहली बैठक, मिल सकती है ये खुशखबरी

0
20



मीडिया रिपोर्टस के अनुसार इस बैठक में जीएसटी काउंसिल आम आदमी को कई राहत दे सकती है 28 फीसदी वाले टैक्स स्लैब से कई चीजों को हटाया जा सकता है और कम टैक्स वाले स्लैब में डाल सकते हैं नई दिल्ली. आज यानी 21 जून को जीएसटी काउंसिल (GST Council) की बैठक होने जा रही है. ये बैठक मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल की पहली बैठक होने वाली है. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) पहली बार इस बैठक का हिस्सा बनने जा रही हैं. ऐसे में आम आदमी टकटकी लगाकर इसका इंतजार कर रहा है.
मीडिया रिपोर्टस के अनुसार इस बैठक में जीएसटी काउंसिल आम आदमी को कई राहत दे सकती है. इस बैठक में सरकार गूड्स एंड सर्विसेज टैक्स के स्ट्रक्चर में बड़ा बदलाव करने पर विचार कर सकती है. 28 फीसदी वाले टैक्स स्लैब से कई चीजों को हटाया जा सकता है और कम टैक्स वाले स्लैब में डाल सकते हैं.
इन सामानों पर घट सकता है टैक्स स्लैब
कई राज्यों ने 28 फीसदी वाले टैक्स स्लैब के कई सामनों में टैक्स में कटौती की मांग की है. बता दें कि 28 फीसदी वाले स्लैब में लग्जरी आइटम्स आते हैं. जैसे छोटी कारें, कंज्यूमर ड्यूरेबल्स में एसी, फ्रिज, प्रीमियम कारें, सिगरेट, महंगी मोटरसाइकिल .ऐसे में सरकार इन सामानों को 28 फीसदी वाले स्लैब से हटा कर कम फीसदी वाले टैक्स स्लैब में रख सकती हैं. इलेक्ट्रिक बाइक-स्कूटर पर 12 के बजाय सिर्फ 5 फीसदी जीएसटी लगाने पर फैसला हो सकता है.ऐसा करने से स्कूटर करीब 5 हज़ार रुपये और कार 1 लाख तक सस्ती हो जाएगी. ऑटोमोबाइल्स को 28 फीसदी जीएसटी वाले ब्रैकेट में रखा गया है. गाड़ियों पर उनके आकार और सेगमेंट के मुताबिक कंपनसेशन सेस भी लगता है. रेट घटाने से कीमत कम होगी और इससे हो सकता है कि कंज्यूमर्स की ओर से डिमांड बढ़ती दिखाई दें.
जीएसटी काउंसिल में इस पर हो सकता है फैसला-
जीएसटी काउंसिल की इस बैठक में निर्मला सीतारमण बिजनेस टू बिजनेस business-to-business (B2B) के लिए e-invoice जेनरेट (generate) करने के लिए थ्रेशहोल्ड (threshold) को 50 करोड़ रुपए करने का प्रस्ताव रखेगी.इस बात की जानकारी वित्त मंत्रालय के एक वरिष्ट अधिकारी ने दी है.साथ ही उनका यह भी कहना है कि इस प्रस्ताव पर 21 जून को बैठक में फैसला लिया जाएगा.
2017-18 के आईटीआर फिलिंग रिपोर्ट के आंकड़ो से ये पता चला है कि कुल 68,041 बिजनेस (businesses) ऐसे है जिनका टर्नओवर 50 करोड़ रुपए से ज्यादा है. इन टर्नओवर वाले बिजनेस की जीएसटी जमा करने में कुल हिस्सेदारी 66.6 फीसदी रही है. इसी के साथ ही प्रदूषण पर मोदी सरकार सर्जिकल स्ट्राइक करने की तैयारी में है, सरकार इलेक्ट्रिक गाड़ियों को लेकर बड़ी घोषणा कर सकती है. आज होने वाली जीएसटी काउंसिल की यह 35वीं बैठक है.
काउंसिल की मीटिंग में जहां एंटी प्रोफिटियरिंग अथॉरिटी के कार्यकाल को 30 नवंबर 2020 तक एक्सटेंशन मिलने को मंजूरी मिल सकती है. इस मीटिंग में सरकार बजट को लेकर भी कई बड़े फैसले ले सकती है. Trending tags – Business News | Economy News | GST Council | Nirmala Sitharaman | Aaj ka Smachar शेयर करें