आसमान में FRANCE के साथ भारत ने दिखाई कलाबाजियां

0
2



फ्रांस के मांट डी मारसन एयर बेस (Mont-de-Marsan Air Base) में चल रहे भारतीय और फ्रांसिसी वायु सेना के संयुक्त अभ्यास गरुड़ के दौरान सुखोई-30 और राफेल लड़ाकू विमानों ने बुधवार को शानदार तालमेल के साथ अपने करतब दिखाए. इस अभ्यास में मिराज विमान भी शामिल हैं. फ्रांस और भारत के बीच अब तक इतना बड़ा युद्धाभ्यास पहले कभी नहीं हुआ था. ये युद्धाभ्यास 12 जुलाई तक चलेगा. फ्रांस के साथ हो रहे इस युद्धाभ्यास में भारत की ओर से चार एसयू-30 एमकेआई, फ्यूल रिफिलर आईएल-78, सी-17 ग्लोबमास्टर एयरक्राफ्ट शामिल हैं. इस अभ्यास में भारतीय वायु सेना के 120 अधिकारी भी शामिल हो रहे हैं. बता दें कि अगले सितंबर महीने में भारत को राफेल विमान की पहली खेप मिलने वाली है. इस लिहाज से ये अभ्यास काफी अहम है. भारतीय सेना के अधिकारी जब अपने दम पर राफेल को उड़ाएंगे तो उनको ये अनुभव काम आएगा. इतना ही नहीं इस अभ्यास के दौरान भारत को अपने लड़ाकू विमानों की मारक क्षमता परखने का मौका फिर से मौका मिला है. इस वार गेम्स यानी संयुक्त युद्ध अभ्यास में शिरकत करने के लिए 25 जून को ही इंडियन एयरफोर्स के 120 ऑफिसर्स फ्रांस रवाना हो गए थे जिनमें गरुड़ कमांडो भी शामिल हैं. शेयर करें