कश्मीर पर ट्वीट कर फंसी Malala Yousafzai, यूजर्स ने ट्वीटर पर कर दिया ट्रोल…

0
14



नोबल शांति पुरस्कार से नवाजी जा चुकी मलाला युसुफजई ने कश्मीर पर जैसे ही ट्वीट किया वैसे ही वो ट्वीटर यूजर्स के निशाने पर आ गई. सोशल मीडिया पर यूजर्स ने उन्हें ट्रोल करना शुरू कर दिया. दरअसल मलाला ने संयुक्त राष्ट्र से अपील की है कि वो कश्मीर में शांति स्थापित करने के लिए काम करें. वहां के बच्चों की स्कूल जाने में मदद करें. I am asking leaders, at #UNGA and beyond, to work towards peace in Kashmir, listen to Kashmiri voices and help children go safely back to school.— Malala (@Malala) September 14, 2019 मलाला ने शनिवार को इस सिलसिले में कई ट्वीट्स किए. एक ट्वीट में उन्होंने लिखा कि मैं यूएनजीए और उससे इतर नेताओं से अपील करती हूं कि वो कश्मीर में शांति के लिए काम करें. कश्मीर के बच्चों को स्कूल भेजने में मदद करें. I am deeply concerned about reports of 4,000 people, including children, arbitrarily arrested & jailed, about students who haven’t been able to attend school for more than 40 days, about girls who are afraid to leave their homes.— Malala (@Malala) September 14, 2019 इसके आलावा एक अन्य ट्वीट में उन्होंने लिखा कि मैं कश्मीर में बीते 40 दिनों से बंद उन चार हजार लोगों के लिए बहुत चिंतित हूं जो जेल के कैदी की तरह बंद हैं. बीते 40 दिनों से वो स्कूल नहीं जा पा रहे हैं जबकि लड़कियां भी अपने घरों से बाहर निकलने में डर रही हैं. “I feel purposeless and depressed because I can’t go to school. I missed my exams on August 12 and I feel my future is insecure now. I want to be a writer and grow to be an independent, successful Kashmiri woman. But it seems to be getting more difficult as this continues.”— Malala (@Malala) September 14, 2019 एक अन्य ट्वीट में उन्होंने लिखा की 12 अगस्त यानी बकरीद के दिन कई लड़कियां अपने घरों से बाहर निकलकर एग्जाम देने जाना चाहती थीं. pic.twitter.com/fKdJoPOZhn— Mr Bubble 💎 (@vimalchand013) September 15, 2019 https://platform.twitter.com/widgets.js इन सभी स्टीव्ट के बाद यूजर्स ने मलाला को ट्रोल करना शुरू कर दिया. लोगों ने कहा कि उन्हें पाकिस्तान के बलूचिस्तान में पाक सेना का अत्याचार नहीं दिखता. उन्हें वहां शांति की फिक्र नहीं हैं. आप तो स्वंय शिकार है पर गन्दी पॉलिटिक्स से बाज़ नहीं आ रही जब हिन्दु मारे थे तब कहाँ थी सेलेक्टिव दर्द क्यूँ होता है?पता नहीं था जिसे हम मसीहा का दर्जा देते रहे वह खाल मे छुपा भेड़िया है कश्मीर भारत का हैवह चिन्ता कर लेगा please stay away 👎— Meera Tewari (@meera_tewari) September 15, 2019 https://platform.twitter.com/widgets.js एक अन्य यूजर मीरा तिवारी ने लिखा कि आप तो स्वंय शिकार है पर गन्दी पॉलिटिक्स से बाज़ नहीं आ रही. जब हिन्दु मारे थे तब कहाँ थी सेलेक्टिव दर्द क्यूँ होता है? पता नहीं था जिसे हम मसीहा का दर्जा देते रहे वह खाल मे छुपा भेड़िया है. कश्मीर भारत का है. वह चिन्ता कर लेगा please stay away. तुम पाकिस्तानी निकली मानवाधिकार से तुम्हारा कोई नाता नहीं पाकिस्तान में हिन्दू, सिख लड़कियों के साथ जो हो रहा है तुम्हें दिखाई नहीं दे रहा— Rita (@bhawalrita) September 15, 2019 एक अन्य यूजर रीता ने लिखा कि तुम पाकिस्तानी निकली. मानवाधिकार से तुम्हारा कोई नाता नहीं है. पाकिस्तान में हिंदू, सिख लड़कियों के साथ जो हो रहा है तुम्हें दिखाई नहीं दे रहा. तु कभी सिरिया यमन पाक व अफगान की लड़कियो के बारे मे कभी नही बोलती जहां उन्हे स्कुल जाने ,सिर नही ढकने,आतंकियो द्वारा उपयोग नही करने देने पर मार भी दिया जाता है जिसके सबुत भी है परौतु इस पर मुंह बंद रखने के पैसे मिले है ।
नोबल की साख गिरा दी जिहाद पसंद औरत ने।
बिना सबुत बोलकर।— Babu Lal (@BabuLal94243258) September 15, 2019 एक अन्य यूजर बाबु लाल ने लिखा कि तुम कभी सिरिया, यमन, पाक या अफगान की लड़कियों के बारे में कभी नहीं बोलती. जहां उन्हें स्कूल जानें, सिर न ढकने, आतंकियों द्वारा उपयोग नहीं करने देने पर मार दिया जाता है. जिसके सबुत भी हैं. इस पर मुंह बंद रखने के पैसे मिले हैं. नोबल की साख गिरा दी जिहाद पसंद औरत ने. बिना सबुत बोलकर. आप गलतफहमी मे जी रही है, #कश्मीर शुरू से भारत का अभिन्न अंग है और #कश्मीरी भारत के नागरिक है।#POK #GilgitBaltistan जरुर #पाकिस्तान के कब्जे मे है और वहां के नागरिक भारतीय नागरिक होने के बावजूद गुलामी की जिंदगी जी रहे है,जो हरेक भारतीय को कांटे की तरह चुभती है,जल्द आजाद कराएंगे..— Vijay Kr Mittal (@VijayMittal2512) September 15, 2019 एक अन्य यूजर विजय कुमार मित्तल ने लिखा कि आप गलतफहमी में जी रही हैं. कश्मीर शुरू से भारत का अभिन्न अंग है. कश्मीरी भारत के नागरिक हैं. POK GiligitBaltistan जरूर पाकिस्तान के कब्जे में है. वहां के नागरिक भारतीय नागरिक होने के बावजूद गुलामी की जिंदगी जी रहे हैं. जो हर एक भारतीय को कांटे की तरह चुभती है. जल्द आजाद कराएंगे. शेयर करेंLike this:Like Loading…