जेनेवा में पाक मंत्री ने भी माना- ‘जम्मू-कश्मीर’ है भारतीय राज्य

0
1



जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) मुद्दे पर पूरी दुनिया में बेइज्जत हो रहे पाकिस्तान (Pakistan) की एक बार फिर से पोल खोल गई है. अब तो पाकिस्तानी विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी (Shah Mehmood Qureshi) ने ही जम्मू-कश्मीर को भारतीय राज्य मान लिया है. पाक विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने जेनेवा में UNHRC की बैठक से बाहर आने के बाद मीडिया से बात की. इस दौरान उन्होंने कश्मीर का राग अलापना शुरू कर दिया. हालांकि इस दौरान सच्चाई उनकी जुबान पर आ ही गई. कुरैशी ने पत्रकारों से बात करते हुए जम्मू-कश्मीर को भारतीय राज्य कहकर संबोधित किया. इससे पहले उन्होंने UNHRC की बैठक में कश्मीर में मानवाधिकारों के हनन का आरोप लगाया. बैठक में कुरैशी ने पूरी दुनिया से एक बार फिर गुहार लगाई कि वे कश्मीर मामले पर हस्तक्षेप करे. वहीं भारत को भी अभी इस पर अपना बयान दर्ज कराना है. पाक को बेनकाब करने वाले पोस्टर लगे कश्मीर मामले पर भारत पर मानवाधिकारों का हनन करने का आरोप लगाने वाले पाक की खुद की पोल खुलने लगी है. जेनेवा में UNO के मुख्यालय के बाहर पाकिस्तान में मानवाधिकारों का हनन करने से संबंधित पोस्टर लगाए गए हैं. यह सभी पोस्टर पाकिस्तान के बलूचिस्तान और खैबर पख्तूनवा प्रांत में मानवाधिकारों के उल्लंघन से जुड़े हैं. पोस्टरों में पाकिस्तान स्थित खैबर पख्तुनवा और बलूचिस्तान के लोगों के ऊपर होने वाले अत्याचार को दिखाया गया है. दोनों इलाके के लोगों की आवाज को दबाने के लिए पाकिस्तानी सेना बर्बरता कर रही है. इन पोस्टर्स में बलूचिस्तान और खैबर पखतुनवा की तस्वीरें थी. ये प्रदर्शनी यूरोपियन ऑर्गनाइजेशन फॉर पाकिस्तानी मॉइनॉरिटीज द्वारा किया गया था. UNO मुख्यालय के सामने ना सिर्फ ये पोस्टर्स लगाए गए हैं बल्कि एक टेंट भी लगाया गया है, जिसमें पाकिस्तानी सेना द्वारा किए जा रहे नरसंहार पर एक डॉक्यूमेंट्री भी दिखाई जाएगी. इन पोस्टर्स में विश्व समुदाय से अपील की गई है कि वो दुनिया इस पर ध्यान दे और पाकिस्तान का विरोध करे. शेयर करेंLike this:Like Loading…