झारखंड मॉब लिंचिंग के विरोध मे आगरा में बवाल, पुलिस फोर्स तैनात

0
6



झारखण्ड में तबरेज हत्याकांड का विरोध पूरे देश में हो रहे हैं, इसका असर अब ताजनगरी आगरा में भी देखने को मिला. आज (सोमवार) को ताजनगरी में विशेष समुदाय द्वारा किए जा रहे प्रदर्शन में पथराव हो गया. माहौल को तनावपूर्ण को देखते पुलिस के आलाधिकारी फोर्स के साथ घटनास्थल पर पहुंचे. पुलिस ने हल्के बल का प्रयोग करके बवालियों को खदेड़ा.  कैसे बिगड़े हालात? पुलिस के मुताबिक मंटोला थानाक्षेत्र के सदर सदर भट्टी में तबरेज हत्याकांड को लेकर विशेष समुदाय के लोगों ने जामा मस्जिद से कलक्ट्रेट तक जुलूस निकाला. इस दौरान जुलूस निकाल रहे लोग खुली दुकानों को बंद करवा रहे थे. दूसरे समुदाय की दुकानों पर तोड़फोड़ करने लगे. बंद का विरोध करने पर उपद्रवी भड़क गए, और पथराव करने लगे. देखते ही देखते माहौल बिगड़ने लगा. भगदड़ मच गई. इससे इलाके के हालात पूरी तरह से बिगड़ गए. बवाल की सूचना पाकर मौके पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जोगेन्द्र कुमार मय फोर्स के साथ पहुंचे. उपद्रवियों को खदेड़ने के लिए पुलिस ने हल्के बल का प्रयोग किया. बिगड़े माहौल को देखते हुए सभी दुकानदार अपनी दुकानें बंद करके भाग निकले. अधिकारियों ने क्या कहा? वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने बताया कि माहौल को शांत करा लिया गया है. उपद्रवियों की पहचान के प्रयास किए जा रहे हैं. जांच के बाद सभी के खिलाफ ठोस कार्रवाई की जाएगी. मौके पर भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है.  क्यों हुआ बवाल? बता दें कि झारखंड के सरायकेल थानाक्षेत्र में 17 जून की रात चोरी को आरोप में बगल के गांव कदमडीहा के तबरेज अंसारी की भीड़ ने पिटाई की थी. इस घटना का वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था. पिटाई की वजह से बाद में सरायकेला जेल में 22 जून को तबरेज की मौत हो गई थी.  पोस्टमार्टम रिपोर्ट में बड़ा खुलासा तबरेज अंसारी के पोस्‍टमॉर्टम रिपोर्ट से बड़ा खुलासा हुआ है कि उनकी मौत अंदरूनी चोटों के चलते नहीं हुई थी. जानकारी के मुताबिक पुलिस कस्टडी में तबरेज ने पानी मांगा था, जिस दौरान उसे पहले गरम पानी दिया गया था, लेकिन उसके मांगने पर ठंडा पानी दिया गया था. पानी पीने के बाद ही उसने बेचैनी की शिकायत की थी. ../दीपक शेयर करें