नवरात्र उत्सव में मां कात्यायनी की हुई पूजा, माता के जयकारों से गूंज रहे हैं देवी मंदिर

0
1



ऋषिकेश,04 अक्टूबर कात्यायनी मंदिर में नवरात्रि के चलते कात्यानी की पूजा करने के लिए श्रद्घालुओं की भीड़ उमड़ पड़ी. दरअसल में माता दुर्गा की षष्ठी रुप माता कात्यायनी ही है. मां का दर्शन करने व पूजन के लिए बड़ी संख्या में श्रद्घालु जुटे थे. शारदीय नवरात्र के छठे दिन शुक्रवार को मां कात्यायनी के दर्शनों के लिए श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ पड़ी. मंदिर मां के जयकारों से गूंज उठे. भक्त कतारबद्ध होकर माता रानी के दर्शन के लिए इंतजार करते रहे. छठे दिन माता रानी के षष्ठम स्वरूप मां दुर्गा की आराधना की गई. किवदंती है कि एक दिन कात्यायन ऋषि ने तप करके देवी से वरदान मांगा कि आप उनके कुल में पुत्री के रूप में जन्म लें. देवी को अजन्मा माना गया है. कात्यायन ऋषि की प्रसन्नता के लिए देवी ने अजन्मा स्वरूप त्याग कर ऋषि कुल में जन्म लिया. इसी कारण देवी का नाम कात्यायन पड़ा. मंदिरों में सुबह व शाम को विशेष पूजा-अर्चना की गई. मनिराम मार्ग स्थित दुर्गा शक्ति मंदिर में भी भक्तों की अपार भीड़ उमड़ी. माता रानी को हरे रंग की पोशाक धारण कर पूजा कराई गई और शहद का भोग लगाया गया. मंदिर समिति भक्तों के सेवा में जुटी हुई है. इसके अलावा मंदिर में परिक्रमा के लिए भी भक्त उमड़ रहे है. इस अवसर पर मंदिर में आयोजित भजन संध्या में मंदिर के सांस्कृतिक सचिव व नगर के भजन गायक ज्योति शर्मा द्वारा मां का गुणगान किया गया.इस दौरान मंदिर समिति के अध्यक्ष संदीप मल्होत्रा,आदि प्रमुख रूप से मोजूद रहे. ../ विक्रम शेयर करेंLike this:Like Loading…