जॉब

बीटीसी 2015 के निरस्त परीक्षा कराने पर असमंजस

बीटीसी 2015 के निरस्त परीक्षा कराने पर असमंजस

बीटीसी 2015 चतुर्थ सेमेस्टर की सोमवार से शुरू हुई परीक्षा सभी पेपर आउट होने से प्रदेश के सभी जिलों में निरस्त कर दी गई है। शासन ने सख्त रुख अपनाते हुए कौशांबी जिले में एफआइआर दर्ज करवाई है और प्रकरण की एसआइटी जांच कराने की योजना है। इस परीक्षा में शामिल होने वाले प्रदेश भर के करीब 76 हजार प्रशिक्षु अब अधर में फंस गए हैं। प्रशिक्षुओं ने आंदोलन करके किसी तरह से पिछले माह बीटीसी तृतीय सेमेस्टर का रिजल्ट जारी कराया था। उसके बाद चतुर्थ सेमेस्टर की परीक्षा के लिए भी आंदोलन किया, इम्तिहान आठ, नौ व दस अक्टूबर को होना तय हुआ। यह परीक्षा पेपर आउट का शिकार हो गई है।

Confused on taking BTC 2015 revocation test

Lost Password

Register