Home दुनिया भारत-आस्ट्रेलिया ने आतंकवाद से लड़ने के लिए मजबूत अंतरराष्ट्रीय भागीदारी से अपील की

भारत-आस्ट्रेलिया ने आतंकवाद से लड़ने के लिए मजबूत अंतरराष्ट्रीय भागीदारी से अपील की

0
भारत-आस्ट्रेलिया ने आतंकवाद से लड़ने के लिए मजबूत अंतरराष्ट्रीय भागीदारी से अपील की

[ad_1]

ऑस्ट्रेलियाई विदेश मंत्री मारिस पायने ने विदेश मंत्री सुब्रह्मण्यम जयशंकर से रायसीना वार्ता-2020 के इतर द्विपक्षीय मुलाकात की. इस दौरान दोनों नेताओं ने स्वीकारा कि आतंकवाद के बढ़ते खतरे ने क्षेत्र में शांति और सुरक्षा के लिए एक बड़ी चुनौती पैदा की है. दोनों नेताओं ने आतंकवाद और हिंसक चरमपंथ का मुकाबला करने में मजबूत अंतरराष्ट्रीय भागीदारी की अपील की. विदेश मंत्रालय ने एक प्रेस विज्ञप्ति में कहा कि ऑस्ट्रेलिया के विदेश मंत्री की यात्रा रणनीतिक साझेदारी को आगे बढ़ाने और भारत-ऑस्ट्रेलिया के बीच दीर्घकालिक, सौहार्दपूर्ण और सहकारी संबंधों को आगे बढ़ाने में एक और मील का पत्थर है. इस दौरान भारत और ऑस्ट्रेलिया ने एक स्वतंत्र, खुले, समृद्ध, नियम-आधारित और समावेशी इंडो-पैसिफिक के निर्माण के लिए साथ मिलकर काम करने की अपनी इच्छा को दोहराया है. दोनों पक्ष एक मजबूत बहुआयामी व्यापार और आर्थिक सहयोग के निर्माण के साथ-साथ रक्षा और सुरक्षा में सहयोग को प्राथमिकता देने पर सहमत हुए हैं. ऑस्ट्रेलिया ने भारत से कहा कि वह उसे उच्च गुणवत्ता वाले खनिज संसाधनों का एक स्थिर और विश्वसनीय  आपूर्तिकर्ता मान सकता है और इस संबंध में दोनों पक्ष मौजूदा संसाधनों की साझेदारी में विविधता लाने और विस्तार करने के लिए सहमत हुए. बैठक के दौरान दोनों विदेश मंत्रियों ने द्विपक्षीय संबंधों में प्रगतिशील विकास का उल्लेख किया और माना कि दोनों देशों के बीच रणनीतिक साझेदारी आपसी समझ, विश्वास, साझा हित और लोकतंत्र व कानून के साझा मूल्यों पर आधारित है. ../अनूप Like this:Like Loading… Related

[ad_2]