Home देश भारत को मिली अपाचे हेलिकॉप्टर की पहली खेप, निभाएगा ‘गेम चेंजर’ की भूमिका…..

भारत को मिली अपाचे हेलिकॉप्टर की पहली खेप, निभाएगा ‘गेम चेंजर’ की भूमिका…..

0
भारत को मिली अपाचे हेलिकॉप्टर की पहली खेप, निभाएगा ‘गेम चेंजर’ की भूमिका…..

[ad_1]

नई दिल्ली. भारतीय वायुसेना के लड़ाकू विमान और हेलिकॉप्टरों के बेड़े में आज एक नया सदस्य शामिल हो गया है. ये हैं अमेरिकी लड़ाकू एएच-64ई अपाचे गार्डियन अटैक हेलिकॉप्टर, जिसका इंतजार भारतीय वायुसेना को काफी समय से था. भारत को मशहूर अटैक हेलिकॉप्टर अपाचे की पहली किस्त के तौर पर 4 चॉपर मिल गए हैं. अपाचे हेलीकॉप्टर आज ट्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट के ज़रिए गाज़ियाबाद के हिंडन एयरबेस (Hindon Airbase) पर पहुंचे. हिंडन एयरबेस पर अपाचे हेलीकॉप्टर में कुछ ज़रूरी उपकरण लगाएं जाएंगे जिसके बाद इन्हें पठानकोट एयरबेस (Pathankot Airbase) पर तैनात किया जाएगा. इसके पहले कमांडिंग अफसर ग्रुप कैप्टन एम शायलू होंगे. पठानकोट में पहले से ही तैनात वायुसेना की 125 हेलीकॉप्टर स्क्वाड्रन (125 H SQUADRON) फिलहाल MI -35 हेलीकॉप्टर्स उड़ाती है और अब ये देश की पहली अपाचे स्क्वाड्रन होगी. दूसरी स्क्वाड्रन असम के जोरहाट में तैनात होगी. अनुमान है कि 2020 तक सभी अपाचे भारतीय वायुसेना को मिल जाएंगे. अगस्त में इस अटैक हेलीकॉप्टर को आधिकारिक तौर पर एयरफोर्स में शामिल कर लिया जाएगा. भारतीय वायु सेना बोइंग से इन हेलीकॉप्टरों को खरीद रही है. एयर फोर्स में ये हेलीकॉप्टर तीन दशक पुराने MI-35 हेलीकॉप्टर की जगह लेंगे. अमेरिकी कंपनी बोइंग की ओर से तैयार किए गए इन हेलिकॉप्टरों को अटैक के मामले में दुनिया में सबसे मारक माना जाता है. भारत ने बोइंग कंपनी से 22 AH-64E अपाचे अटैक हेलिकॉप्टर खरीदने का करार किया था. अमेरिका ने इस हेलीकॉप्टर का भरपूर इस्तेमाल इराक और अफगानिस्तान में किया और इजरायल भी गाजा में इसी हेलीकॉप्टर के दम पर अपने दुश्मनों पर कहर ढाता रहा है. अपाचे को इस तरह से डिजाइन किया गया है कि ये वॉर जोन में लड़ाई के समय कतई फेल न हो. अपाचे पहला ऐसा हेलिकॉप्‍टर है जो भारतीय सेना में विशुद्ध रूप से हमले करने का काम करेगा. अपाचे (Apachy) को इस तरह से डिजाइन किया गया है कि दुश्‍मन की किलेबंदी को भेदकर और उसकी सीमा में घुसकर हमला करने में सक्षम है. इससे पहले मई में कंपनी ने भारत को एरिजोना में पहला अपाचे हेलिकॉप्टर सौंपा था, अब उस हेलिकॉप्टर समेत 4 विमान भारत आ पहुंचे हैं. खुद कंपनी ने हेलिकॉप्टरों के भारत पहुंचने की पुष्टि की है. इस हेलिकॉप्‍टर के वायुसेना के बेड़े में शामिल होने से भारत की दुश्मन के घर में घुसकर मार करने की क्षमता और बढ़ी है. नाइट विजन सिस्टम की मदद से रात में भी दुश्मनों की टोह लेने, हवा से जमीन पर मार करने वाले रॉकेट दागने और मिसाइल आदि ढोने में सक्षम है अपाचे हेलिकॉप्टर. अपाचे दुनिया के उन चुनिंदा हेलीकॉप्टर्स में शामिल है जो किसी भी मौसम या किसी भी स्थिति में दुश्मन पर हमला कर सकता है. शेयर करेंLike this:Like Loading…

[ad_2]