Home लाइफस्टाइल रोजाना सम्बन्ध बनाना क्यों जरुरी है प्रेग्नेंट महिला के लिए

रोजाना सम्बन्ध बनाना क्यों जरुरी है प्रेग्नेंट महिला के लिए

0

[ad_1]

प्रेगनेंसी में रोजाना सम्बन्ध बनाने के फायदे, गर्भावस्था किसी भी महिला के लिए बहुत ही खास होती है। क्योंकि इस दुनिया का सबसे प्यारा अहसास ही मातृत्व का अनुभव करना होता है। और हर माँ यही चाहती है की उसके शिशु को कभी कोई दिक्कत न हो वो हमेशा स्वस्थ रहे। और ऐसा केवल महिला शिशु के जन्म के बाद ही नहीं सोचती है। बल्कि गर्भ में शिशु के आने पर ही वो शिशु की बेहतर केयर का ध्यान रखती है। इसीलिए प्रेगनेंसी के दौरान वो किसी भी तरह की लापरवाही से बचे रहना चाहती है।

लेकिन प्रेगनेंसी के दौरान खान, पान, उठने, बैठने, सोने के साथ कपल के मन में सम्बन्ध बनाने को लेकर भी तरह तरह के विचार आते हैं। लेकिन सम्बन्ध बनाना भी लाइफ का एक हिस्सा होता है। और प्रेगनेंसी के दौरान सम्बन्ध बनाने को लेकर कोई दिक्कत तो नहीं होगी इसे लेकर कपल परेशान हो सकता है। औरआज हम इस आर्टिकल से आपकी इन सभी परेशानियों को दूर कर सकते हैं। क्योंकि मेडिकल के अनुसार प्रेगनेंसी के कपल का सम्बन्ध बनाना बहुत फायदेमंद होता है। तो आइये अब उन फायदों के बारे में विस्तार से जानते हैं।

प्रेगनेंसी में रोजाना सम्बन्ध बनाने से मिलता है तनाव से आराम

  • प्रेगनेंसी एक ख़ुशी का पल होता है और ऐसे में महिला को तनाव में नहीं रहना चाहिए।
  • लेकिन बॉडी में हो रहे बदलाव, शारीरिक परेशानियों व् प्रेगनेंसी में किसी तरह की लापरवाही न हो इसे लेकर डर के कारण प्रेग्नेंट महिला तनाव में आ सकती है।
  • और तनाव गर्भवती महिला व् शिशु दोनों की सेहत पर नकारात्मक असर डाल सकता है।
  • ऐसे में सम्बन्ध बनाने से महिला को इस परेशानी से निजात पाने में मदद मिलती है।
  • क्योंकि लव मेकिंग के समय ऑक्सीटोसिन हॉर्मोन महिला की बॉडी से रिलीज़ होता है जिसे आप लव हॉर्मोन भी कह सकते हैं।
  • और यह हॉर्मोन प्रेग्नेंट महिला को तनाव से दूर रखने के साथ अच्छी व् गहरी नींद लेने में भी मदद करता है।

प्रेगनेंसी में रोजाना सम्बन्ध बनाना करता है कॉम्प्लीकेशन्स को करता है कम

  • सम्बन्ध बनाने के बाद बॉडी से जो शुक्राणु रिलीज़ होते हैं।
  • वह शुक्राणु गर्भवती महिला की प्रतिरक्षा प्रणाली यानी इम्यून सिस्टम को मजबूत रखने में मदद करते हैं।।
  • जिससे गर्भवती महिला को स्वस्थ रहने और प्रेगनेंसी के दौरान आने वाली कॉम्प्लीकेशन्स को कम करने में मदद मिलती है।

ब्लड प्रैशर

  • गर्भावस्था के दौरान बहुत सी प्रेग्नेंट महिलाएं ब्लड प्रैशर की समस्या से परेशान हो सकती है।
  • और यह समस्या गर्भवती महिला के साथ शिशु पर भी प्रभाव डाल सकती है।
  • लेकिन यदि प्रेग्नेंट महिला रोजाना सम्बन्ध बनाती है।
  • तो इससे प्रेग्नेंट महिला के ब्लड प्रैशर को सामान्य रखने में मदद मिलती है।
  • जिससे प्रेग्नेंट महिला को दिक्कतों को कम किया जा सकता है।

बाथरूम जानें की समस्या

  • वजन बढ़ने व् बॉडी में होने वाले हार्मोनल बदलाव के कारण महिला को बार बार यूरिन पास करने की इच्छा हो सकती है।
  • वजन जैसे जैसे बढ़ता है वैसे वैसे ये दिक्कत ज्यादा बढ़ सकती है।
  • और कई बार तो यूरिन कण्ट्रोल न होने पर, हंसने या छींकने पर थोड़ा सा यूरिन का रिसाव अपने आप ही हो जाता है।
  • और इसका कारण प्राइवेट पार्ट की मांसपेशियों का मजबूत न होना हो सकता है।
  • लेकिन सम्बन्ध बनाने से पेल्विक एरिया की मांसपेशियों को मजबूत होने में मदद मिलती है।
  • जिससे गर्भवती महिला को इस समस्या से बचे रहने में मदद मिलती है।

प्रसव और प्रसव के बाद

  • यदि प्रेग्नेंट महिला व् कपल प्रेगनेंसी के दौरान सम्बन्ध बनाते हैं।
  • तो इससे पेल्विक एरिया की मांसपेशियों को मजबूत रहने में मदद मिलती है।
  • जिससे गर्भवती महिला को प्रसव के दौरान आने वाली परेशानियों को कम करने में मदद मिलती है।
  • साथ ही प्रसव के बाद महिला की मांसपेशियों की मजबूती को बने रहने में फायदा होता है।
  • जिससे डिलीवरी के बाद महिला को बहुत जल्दी रिकवर होने में मदद मिलती है।

तो यह हैं कुछ फायदे जो प्रेगनेंसी के दौरान सम्बन्ध बनाने से हो सकते हैं। लेकिन सुरक्षा व् महिला की सेहत का ध्यान रखकर ही सम्बन्ध बनाएं। साथ ही प्रेगनेंसी की पहली तिमाही के बाद ही सम्बन्ध बनाएं। इसके अलावा आप चाहे तो तसल्ली के लिए एक बार डॉक्टर से भी पूछ सकते हैं। क्योंकमी सम्बन्ध बनाने के लिए महिला की सेहत की जानकारी होना बहुत जरुरी होता है।

[ad_2]