विदेशी मंच पर बेइज्जत हुए पाक के विदेश मंत्री, ये है वजह

0
1



पाकिस्तान (Pakistan) के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी (Shah Mehmood Qureshi) को लंदन में पत्रकारों के बीच शर्मिंदगी झेलनी पड़ी. मामला पाकिस्‍तान में मीडिया पर लगी सेंसरशिप का था. दरअसल लंदन में चल रही प्रेस कॉन्फ्रेंस को एक कनाडाई पत्रकार ने बीच में ही रोक दिया. पत्रकार ने आरोप लगाया कि सरकार की शिकायतों के बावजूद उसका सोशल मीडिया अकाउंट निलंबित कर दिया गया. लंदन में ‘ग्‍लोबल कॉन्‍फ्रेंस फोर मीडिया फ्रीडम’ पर एक प्रेस कॉन्फ्रेंस चल रही थी. उसी समय एक राजनीतिक वेबसाइट रेबेल मीडिया (Rebel media) के पत्रकार इजरा लेवेंट (Ezra Levant ) ने आरोप लगाया कि सरकार की शिकायतों के बाद उसका सोशल मीडिया अकाउंट निलंबित कर दिया गया. कनाडाई पत्रकार इजरा लेवेंट ने ट्वीट कर लिखा ‘टि्वटर ने मेरा पूरा अकाउंट बंद नहीं किया बल्कि उन्होंने मेरा एक ट्वीट हटा दिया. टि्वटर द्वारा भेजे एक ई-मेल में मुझे ऐसी जानकारी दी गई कि मैंने पाकिस्तानी कानून का उल्लंघन किया था. मैं कनाडा में हूं. टि्वटर अमेरिका में है लेकिन पाकिस्तान ने हमें सेंसर कर दिया.’ हालांकि कुरैशी ने आरोपों से इनकार करते हुए कहा कि उन्‍होंने ऐसा नहीं किया है बल्कि पाकिस्‍तान की सरकार ने ये निर्णय लिया है. पाकिस्तानी पत्रकार मुनिजा जहांगीर ने टि्वटर पर घटना का वीडियो शेयर किया है. पाकिस्‍तान की सरकार मीडिया पर काफी ज्यादा हावी हो गई है. सरकार के खिलाफ बोलने वाले पत्रकारों पर हमले हो रहे हैं, विपक्षी नेताओं के इंटरव्‍यू के टेलीकास्‍ट पर रोक लगाई जा रही है, न्‍यूज चैनलों पर प्रतिबंध लगाया जा रहा है. वहीं कुछ दिन पहले ही पाकिस्तान में मीडिया पर निगरानी करने वाली संस्था ‘पाकिस्तान इलेक्ट्रॉनिक मीडिया नियामक प्राधिकरण’ ने जेल में बंद पूर्व राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी के साक्षात्कार का प्रसारण करने के लिए तीन निजी टीवी चैनलों का ट्रांसमिशन रद्द कर दिया था. शेयर करें